SSC-CHSL

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग के एग्जाम को 6 महीने में सफल करने की रणनीति, सुझाव और तकनीक

  • सबसे पहले उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की जिस परीक्षा में आप शामिल होना चाहते हैं, उसका पाठ‍यक्रम भलीभांति समझ लें।
  • इसके बाद पिछले वर्षों के दौरान हुई संबंधित परीक्षा में पूछे गए प्रश्नों का गहन अध्ययन (प्रारम्भिक और मुख्य परीक्षा के प्रश्न) एवं उनको हल करने का प्रयास करें।
  • सामान्य अध्ययन के लिए कक्षा 8 से 11 तक के इतिहास, भूगोल, अर्थशास्त्र, राजव्यवस्था, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, गणित की पुस्तकें, सामान्य अध्ययन की एक मानक गाइड एवं दैनिक खबरों के लिए एक राष्ट्रीय समाचार पत्र पढ़ सकते हैं।
  • इस प्रकार की प्रक्रिया से आप परीक्षा की संपूर्ण प्रवृत्ति से अवगत हो जाएंगे।
  • प्रारंभिक परीक्षा एवं मुख्य परीक्षा में वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के लिए अधिक से अधिक परीक्षा केंद्रित प्रश्नों का अभ्यास काफी लाभदायक साबित होगा।
  • निबन्ध और विशेषकर सामान्य हिन्दी के प्रश्न पत्रों के लिए निरंतर अभ्यास की आवश्यकता होती है। इन दोंनों ही प्रश्नपत्रों का मुख्य परीक्षा में एक विशेष महत्व है। क्योंकि इनमें उम्मीदवार अधिक से अधिक अंक प्राप्त कर सकते हैं।
  • जिन वैकल्पिक विषयों का चयन करें उन पर पूरी पकड़ होनी चाहिए और आप परीक्षा के पाठ‍क्रम को ध्यान में रखकर उन विषयों पर अपनी पकड़ मजबूत बना सकते हैं। नियमित अध्ययन एवं प्रश्नों को हल करने का अभ्यास इसमें मददगार साबित हो सकता है।
  • परीक्षा के अंतिम चरण यानी साक्षात्कार में अच्छे प्रदर्शन के लिए आवश्यक है कि उम्मीदवार साक्षात्कार के लिए जाने से पहले कुछ विशेष क्षेत्रों जैसे समसामयिक घटनाओं, अकादमिक योग्यता से जुड़े बहुआयामी प्रश्नों पर अच्छी पकड़ बना लें।
  • साक्षात्कार आपके व्यक्तित्व का परीक्षण होता है जिसमें प्रशासनिक कौशल से संबंधित विभिन्न योग्यताओं के लिए आपकी परख की जाती है।

October 10, 2016

Copyright 2017 © AMARUJALA.COM. All rights reserved.