Army

भारतीय सेना

 

  • भारत की सुरक्षा करना भारतीय सेना का कर्तव्य है और भारतीय सेना का सर्वोच्च नियंत्रण भारत के राष्ट्रपति के पास है।
  • रक्षा मंत्रालय देश की रक्षा से संबंधित सभी मामलों में नीतियाँ बनाने व उन्हें लागू करने के लिए उत्तरदायी है।
  • मंत्रालय का प्राथमिक कार्य सशस्त्र सेनाओं का प्रशासन है।
  • प्रत्येक सेना का अपना सेना प्रमुख होता है और तीनों प्रमुख रक्षा की विस्तृत योजना बनाने, तैयारी करने और क्रमशः अपनी सेना के संचालन व प्रशासन के लिए उत्तरदायी होते हैं।
  • नागरिक स्वेच्छा से सेनाओं में शामिल होते हैं और सुप्रशिक्षित, दक्ष पेशेवर अफ़सरों के दल द्वारा इनका नेतृत्व किया जाता है।
  • भारतीय सेना भर्ती बोर्ड अपने देश और देश मे रह रहे लोगों की रक्षा करने के लिए समय समय पर निम्न पदों पर सैनिको की भर्ती करती है।

नियम और जिम्मेदारियां

  • अतः भारतीय सेना में सबसे बडा पद फ‌ील्ड मार्शल (और यह अब तक सिर्फ दो लोगों को ही मिला है।
  • सैम मानिक शॉ और के एम करियप्पा। इसके अलावा जनरल, लेफ्टिनेंट जनरल, मेजर जनरल, ब्रिगेडियर, कर्नल, लेफ्टिनेंट कर्नल, मेजर, कैप्टन, लैफ्टिनेंट, सेकेंड लैफ्टिनेंट, रेजीमेंट हवलदार मेजर, रेजीमेंटल क्वाटर मास्टर हवलदार, कंपनी हवलदार मेजर, कंपनी क्वाटर मास्टर हवलदार, हवलदार, नायक, लांस नायक, सिपाही से संबंधित पोस्ट आएंगी।
  • इन पदों मे आवेदन करनें के लिए आपको इनके नियम और शर्तों को एवं पदों के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए आदि का ज्ञान होना अति आवश्यक है।
  • एक बार भारतीय सेना में शामिल हो जाने के बाद, व्यक्ति देश की सीमाओं की सुरक्षा में समर्पित हो जाता है।
  • वह शपथ लेता है और देश की सेवा में लग जाता है न कि दासता में।
  • वैसे तो सभी भारतीय सैनिकों का कर्त्तवय होता है कि वह भारत की सीमा और देश के सभी नागरिकों की रक्षा करना उनका प्रथम कर्त्तव्य है।
  •  अपने से पद में उच्च अधिकारियों के आदेशानुसार कार्य करने में आबद्ध हैं।
  • चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ (सीओएएस), जो समग्र रूप से सेना की कमान, नियंत्रण और प्रशासन के लिए उत्तरदायी है।
  • सेना कर्मचारी के अध्यक्ष(सीओएएस), विभिन्न भूमिकाएं निभाते हैं।
  • सेना को 6 प्रचालन रत कमांडों (क्षेत्र की सेनाएं) और एक प्रशिक्षण कमांड में बांटा गया है, जो एक लेफ्टिनेंट जनरल के नियंत्रण में होती है,
  • जो वाइस चीफ ऑफ आर्मी स्‍टाफ (वीसीओएएस) के समकक्ष होते हैं।

     

वेतनमान

  • सेना में निम्नतम और सर्वोच्च पद के लिए वेतनमान 5200 से 90000 रु.निर्धारित किया गया है।

     

शैक्षणिक योग्यताएँ

  •  Army में जाने के लिए अभ्यर्थी किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड या विश्वविद्यालय से 10+2 पास होना चाहिए। 

     

एग्जाम पैटर्न

  • भारतीय सेना में भर्ती होने के लिए विभिन्न चरण आयोजित किए जातें हैं जो कि अलग-अलग पदों के लिए भिन्न भिन्न हो सकते है। सामान्य तौर पर निम्न प्रक्रिया अपनाई जाती है-
  •  प्रारम्भिक छंटनी तथा पंजीकरण
  • शारीरिक दक्षता परीक्षा
  • शारीरिक नाप तौल
  • अभिलेखों का परीक्षण
  • चिकित्सा परीक्षा
  • सामान्य प्रवेश परीक्षा
  • श्रेष्ठता सूची का निर्माण

शारीरिक दक्षता परीक्षा - अधिकतम एवं न्यूनतम अंक निम्नवत है तथा इसी अनुपात में अंक प्रदान किए जाते हैं -

  • 1600 मीटर दौड़-5.40 मिनट में पूरी करने पर 60 अंक 6.06 मिनट में पूरी करने पर 24 अंक
  •  पुल अप - 10 बार करने पर 40 अंक 6 बार करने पर 16 अंक
  •  बैलेन्स एवं 9 फुट खाई पार करना अनिवार्य है।

नोट - प्रत्येक दशा में सीने का फुलाव 5 सेमी वांछनीय है।

आवश्यक प्रमाण पत्र

  • शैक्षिक प्रमाण पत्र एवं मार्कशीट सभी मूल एवं 2 छाया प्रतियां सत्यापित
  • निवास प्रमाण पत्र डी एम / एस डी एम 1 मूल 2 छाया प्रतियां सत्यापित
  • चरित्र प्रमाण पत्र 6 महीने से अधिक पुराना नही 1 मूल 2 छायाप्रति एवं सत्यापित
  • पासपोर्ट आकार के फोटो 10 

     

एग्जाम में सफल होने के लिए रणनीति, सुझाव और तरकीब

पाठ्यक्रम

 


 

 

  • नीचे दिए गए  सभी महत्वपूर्ण टॉपिक अग्रेजी खंड के तहत समान रूप से पूछे जाते हैं। इन सभी टॉपिकों के नियमित अभ्यास से परीक्षा में अधिक से अधिक अंक हासिल किए सकते हैं।
S.No. Topics
1 Spotting the errors
2 Close test
3 Idioms and phrases
4 Sentence completion test
5 Sentence rearrangement
6 Comprehension
7 Active and passive voice
8 Direct and indirect speech

 

 

  • गणित एक ऐसा विषय है जिसमें जितना अधिक अभ्यास किया जाए, उसमें उतनी ही अधिक प्रवीणता पाई जा सकती है। ट्रिकी सूत्रों के ज‌रिये इसे कम से कम समय में हल करने का कौशल विकसित किया जा सकता है।
  • गणित के निम्न टॉपिकों पर उसके सूत्रों (Formulae) और हल करने की विधि को जानकर सफलता सुनिश्चित की जा सकती है।
S.No. Topics S.No. Topics
1. संख्या शृंखला 15. समय तथा कार्य
2. संख्याएं 16. समय, दूरी एवं चाल
3. दशमलव भिन्नें 17. रेलगाड़ियां
4. लघुत्तम समापवर्त्य तथा महत्तम समापवर्तक 18. साधारण ब्याज
5. वर्गमूल तथा घनमूल 19. चक्रवृद्धि ब्याज
6. घातांक तथ करणी 20. साझा
7. सरलीकरण 21. पाइप तथा टंकी
8. आसन्नतः मान 22. धारा तथा नाव से संबंधित प्रश्न
9. औसत 23. समतल आकृतियों के क्षेत्रफल
10. प्रतिशतता 24. ठोसों के आयतन
11. लाभ, हानि एवं बट्टा 25. क्रमचय तथा संचय
12. संख्याओं पर आधारित प्रश्न 26. प्रायिकता
13. उम्र पर आधारित प्रश्न 27. समंकों की पर्याप्तता
14. अनुपात तथा समानुपात 28. पैराग्राफ पर आधारित प्रश्न

 

 

  • प्रतियोगी परीक्षाओं में तर्क ज्ञान से जुड़े प्रश्न तर्कशक्ति या तार्किक क्षमता खंड के तहत पूछे जाते हैं।
  • प्रश्नों की मौलिक प्रकृ‌ति को समझकर और टॉपिक के मुताबिक अभ्यास कर इसे समझना आसान हो जाता है।
S.No. Topics S.No. Topics
1. गणितीय संक्रियाएं 12 संख्या अ‌क्षर एवं प्रतीक की शृंखला पर आधारित प्रश्न
2. शब्दों का तार्किक क्रम 13 शृंखल
3. सादृश्यता परीक्षण 14 तार्किक वेन आरेख
4. कैलेंडर 15 असमता का परीक्षण
5 वर्गीकरण 16 कथन एवं‌ निष्कर्ष
6 कूटलेखन एवं कूटवाचन 17 न्याय निगमन
7 क्रम व्यवस्थिकरण 18 कथन एवं कार्यवाहियां
8 बैठक व्यवस्थिकरण 19 कथन एवं पूर्वधारणाएं
9 दिशा ज्ञान परीक्षण 20 निवेश एवं निर्गम
10 रक्त संबंध    
11 पहेली परीक्षण    

 

 

S.NO. TOPICS
1. करंट अफेयर
2. भारतीय एवं विश्व इतिहास
3. रासायन विज्ञान
4. भौतिक विज्ञान
5. कौन कब कैसे
6. विश्व और भारत में बडा,छोटा
7. जीव विज्ञान
8. भारत एवं विश्व का भूगोल
9. खेल एवं खिलाडी
  • शारीरिक मापदंड में फिट होने के बाद डाक्टरी जांच की जाती है उन्हें लिखित परीक्षा में बैठाया जाएगा।
  • जो उम्मीदवार मेडिकल जांच में फिट हो जाते हैं, उन्हे साक्षात्कार के बाद मैरिट माध्यम से नियुक्त किया जाता है।