IBPS


द इंस्टीट्यूट ऑफ बैंकिंग पर्सनल सलेक्‍शन (आईबीपीएस) एक स्वायत्त निकाय है।

  • इसकी स्‍थापना विभिन्न ग्राहक संगठनों के लिए कर्मचारियों के मूल्यांकन और चयन की विश्व स्तरीय प्रक्रिया विकसित करने और उसे लागू करने के लिए किया गया है।
  • संस्‍थान की नींव इसकी सभी गतिविधियों में गति, शुद्धता और विश्वसनियता के आदर्श पर टिकी है।
  • संस्‍थान इसे आधुनिक प्रौद्योगिकी और अकादमिक विशेषज्ञता के मिश्रण के जरिए प्राप्त करने के प्रति तत्पर है।
  • आईबीपीएस अपनी सेवा सभी सार्वजनिक बैंकों, एसबीआई, एसबीआई के सहायक बैंकों, आरबीआई, नाबार्ड, एसआईडीबीआई, कुछ सहकारी बैंकों, एलआईसी एवं बीमा कंपनियों, जो आईबीपीएस सोसाइटी के नियमित सदस्य हैं, को प्रदान करती है।
  • इसके अलावा क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों, गैर-वित्तीय क्षेत्रों की विभिन्न सार्वजनिक उपक्रमों, सरकारी विभागों, राज्य के अधीन आने वाली कंपनियों और निगमों द्वारा भी आईबीपीएस की सेवा ली जाती है।
  • कुछ बड़े विश्वविद्यालयों और प्रतिष्ठित प्रबंधन संस्‍थानों द्वारा भी अपने यहां ''नामांकन परीक्षाएं'' आयोजित करने के लिए नियमित तौर पर आईबीपीएस की सेवा ली जाती है।
  • पिछले कुछ वर्षों में आईबीपीएस ने देश के एक प्रमुख 'कर्मचारी चयन परीक्षा संचालन एजेंसी' के रूप में प्रतिष्ठा प्राप्त की है।
  • इसकी मजबूती बहुविकल्पीय प्रश्नों तथा वृहत् स्तरीय परीक्षा कार्यक्रमों के लिए साधनों को विकसित करने और बनाने की क्षमता में परिलक्षित होती है। साथ ही इसकी व्यापक क्षमता का सहज अनुमान लाखों लाख उम्मीदवारों के लिए एक साथ भारत भर के 200 शहरों/कस्बों में और कुछ विदेशी स्‍थानों पर एक साथ परीक्षा के आयोजन से लगाया जा सकता है।
  • इसके अलावा आईबीपीएस के पास एजीएम/डीजीएम/ जीएम आदि उच्च स्तर के पदों पर कर्मचारियों के चयन और/या परीक्षण के लिए मूल्यांकन केंद्रों और समूह गतिशीलता संबंधी व्यक्तित्व परीक्षण के संचालन में भी दक्षता है।

अधिक जानकारी के लिये निम्नलिखित अधिकृत वेबसाइट को देखे।

http://www.ibps.in/

महत्वपूर्ण तथ्य और आंकड़े


प्रकार                                                                                                   एक स्वायत्त संस्था
संस्थापक निदेशक                                                                                                    डॉ ए. एस. देशपांडे 
स्थापना

                                                                                           1975 में पी. एस. एस.

(PSS - Personnel Selection Services) के नाम से वर्ष 1984 में यह एक स्वायत्त संस्था बनी।

मुख्यालय

                                                                                                       कांदीवली, मुंबई

चेयरमैन 

                                                                                                          अश्विनी कुमार

                                                          (चेयरमैन व मैनेजिंग डायरेक्टर, देना बैंक)

वेबसाइट

                                                                                                         www.ibps.in

उपलब्धि
  • वर्ष 2015-2016 में कुल 1.27 करोड़ उम्मीदवारों ने विभिन्न आईबीपीएस परीक्षाओं के लिए पंजीकरण कराया है।
  • यह अपने आप में संस्‍थान के लिए एक बड़ी  है। यह इस बात का सूचक है कि अधिक से अधिक उम्मीदवार बैंकिंग, इंश्योरेंस एवं वित्तीय क्षेत्र में नौकरी के अवसर तलाश रहे हैं या इनके प्रति आ‌कर्षित हो रहे हैं।
  • इससे आईबीपीएस द्वारा आयोजित ऑनलाइन परीक्षा पद्धति में ये उम्मीदवार प्रत्यक्ष/ अप्रत्यक्ष रूप से अपने विश्वास को जाहिर कर रहे हैं जो पूर्णतः निष्पक्ष, पारदर्शी एवं नौकरी के लिए उपयुक्त कौशल, अभिक्षमता एवं जानकारी को परखने का माध्यम है।
  

 आईबीपीएस में कैरियर के अवसर


मौजूदा नौकरी अधिसूचना

Copyright 2017 © AMARUJALA.COM. All rights reserved.