विश्व प्रसिद्ध महान वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग का 76 की उम्र में निधन हो गया। उनके परिवार ने 13 मार्च, 2018 को बयान जारी कर उनके मौत की पुष्टि की है। स्टीफन बेस्टसेलर बुक 'अ ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ टाइम' के लेखक भी थे। कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में सैद्धांतिक ब्रह्मांड विज्ञान केंद्र ( सेंटर ऑफ थियोरेटिकल कोस्मोलॉजी) के शोध निर्देशक भी रहे।  दुनिया के सबसे प्रसिद्ध भौतिकीविद और ब्रह्मांड विज्ञानी पर 2014 में ‘थ्योरी ऑफ एवरीथिंग’ नामक फिल्म भी बन चुकी है। हॉकिंग ने कहा था, ‘मानव जाति का लंबा भविष्‍य अंतरिक्ष में होना चाहिए। 
          उन्‍होंने कहा कि यदि अगले 200 साल तक मानव जीवित रहा और अंतरिक्ष में रहना सीख लिया तो भी हमारा भविष्‍य उज्‍जवल होगा। कैंब्रिज में उन्‍हें लूकैसियन प्रोफेसर और मैथ्‍स का सम्‍मानित पद प्राप्त हुआ था जहां 1669 से 1702 तक सर आइजैक न्‍यूटन रहे थे। हॉकिंग का जन्‍म इंग्‍लैंड के ऑक्‍सफोर्ड में 8 जनवरी 1942 को हुआ था। उनके प्रसिद्ध कार्यों में रोगर पेनरोज कीके सहयोग से गुरुत्‍वाकर्षणीय विलक्षणता, ब्‍लैक होल्‍स से ब्‍लैक बॉडी का रेडिएशन, बेस्‍ट सेलिंग किताब ए ब्रीफ हिस्‍ट्री ऑफ टाइम है। 20 सालों में उनके द्वारा लिखीं पुस्‍तक की लगभग 01 करोड़ से ज्‍यादा प्रतियां बिकीं।

Important links:

  • Share: