Featured Articles

वास्तुशिल्पः एक ऐसा करियर जहाँ आप जादुई दुनिया बना सकते हैं

  • Share:
architecture india

Highlights

  • एक आर्किटेक्ट केवल भवनों का खाका ही तैयार नहीं करता है, बल्कि कीमत का निर्धारण कर भवन निर्माण में अपने उम्दा कौशल का प्रदर्शन भी करता है।

  • बारहवीं में गणित, भौतिकी और रसायन विषयों की पढ़ाई के बाद आप आर्किटेक्चर में स्नातक की पढ़ाई कर सकते हैं।

  • आर्किटेक्चर में परा स्नातक कोर्स हेतु बी.आर्क डिग्री आवश्यक है। 

  • देश के 135 आर्किटेक्चर कॉलेजों में बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर करने के लिए नाटा परीक्षा देना होती है।

  • नाटा में सफल होने के लिए कम से कम नाटा परीक्षा में 40 प्रतिशत अंक प्राप्त होने चाहिए।