सिविल सर्विस की प्रारंभिक परीक्षा में बैठने वाले कैंडिडेट की संख्या लाखों होती है जबकि मुख्य परीक्षा में रिक्तियों का 15 से 18 गुना लोगों को लिया जाता है। IAS मुख्य परीक्षा में वही कैंडिडेट बैठते हैं, जिन्होने IAS की प्रारंभिक परीक्षा को पास कर लिया हो। IAS की मुख्य परीक्षा प्रतिवर्ष अक्टूबर और नवंबर माह के बीच आयोजित होती है। IAS मुख्य परीक्षा (IAS Main Exam) में कुल 9 वर्णनात्मक पेपर आते हैं, जो इस प्रकार है- 1. क्वालीफाइंग पेपर - एक भाषा से और एक अंग्रेजी का। 2. सामान्य अध्ययन के चार पेपर। 3. दो पेपर एक वैकल्पिक विषय से 4. एक निबंध का पेपर। क्वालीफाइंग पेपर क्वालीफाइंग पेपर के मार्क्स मु्ख्य परीक्षा में नहीं जुड़ते हैं। इसमें पास होना अनिवार्य होता है। बिना इसमें पास हुए कैंडिडेट के अन्य पेपर को जांचा नहीं जाता है। सामान्य अध्ययन के पेपर IAS में सामान्य अध्ययन के चार पेपरों में प्रत्येक पेपर 250 अंक का है। एक वैकल्पिक विषय वैकल्पिक विषय के दो पेपरों के कुल मार्क्स 500 है। दिये हुए वैकल्पिक विषयों में से एक विषय चुनना होता है। निबंध IAS में सामान्य अध्ययन और वैकल्पिक विषयों की तरह निबंध भी 250 अंक का होता है। सिविल सर्विस के अन्य उपयोगी विषय Crack IAS 2018 Exam: विस्तार से जाने सिविल सेवा परीक्षा (CSE) 2018 की समयबद्ध, सही दिशा में और सिस्टमेटिक तैयारी
IAS prelims का एग्जाम पैटर्न IAS परीक्षा में निबंध कैसे लिखें IAS-2018 की परीक्षा में वैकल्पिक विषय का चुनाव कैसे करें इंटरव्यू टिप्सः सिविल सर्विस एग्जाम-2017
IPS में चयन और कैडर कैसे मिलता हैः विस्तार से जाने 
IAS, IPS आदि सेवाओं का ट्रेनिंग संस्थान LBSNAA: मंसूरी Check IAS Exam 2018 Details  
  • Share: