CSE-2017 के साक्षात्कार की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों की सहायता के लिए इन अति महत्वपूर्ण टिप्स को सिलेक्टेड सिविल सर्वेन्ट के एक्सपीरियंस के आधार पर बनाया गया है। साक्षात्कार में कैंडिडेट के मानसिक स्वास्थ्य, उनके व्यक्तित्व, व्यावहारिक निर्णय आदि को समझा या जाना जाता है। चूंकि एक सिविल सर्वेन्ट को समाज में और लोगों के बीच रहकर काम करना होता है। इस स्थिति में उसे समस्या का समाधान करने वाला होना चाहिए, न कि समस्या को बढ़ाने वाला। इसलिए 'मानसिक स्वास्थ्य और व्यक्तित्व परिक्षण' साक्षात्कार का मुख्य विषय होता है, जिसे निम्न प्रकार से समझा जा सकता है- सिविल सर्विस में साक्षात्कार के अंक (Interview number in civil service) वर्तमान समय में सिविल सेवा साक्षात्कार (Civil service interview) 275 अंक का होता है, जबकि पूर्व में यह 300 अंको का होता था। साक्षात्कार में क्या तैयार करें (What to prepare in interview) CS-2017 के इंटरव्यू के लिए 'करेंट अफेयर्स' के छोटे-बड़े विषयों को समझे कि मामला क्या है। जैसे जीएसटी क्या है। इससे किसे लाभ और किसे हानि है। देश की अर्थव्यवस्था में इसका क्या प्रभाव पड़ेगा, छोटे-बड़े व्यापारियों और उपभोक्ता को क्या लाभ है। विश्व स्तर पर इसका क्या प्रभाव होगा। निवेश और आयात अर्थात इंपोर्ट एंड एक्सपोर्ट पर इसका क्या प्रभाव होगा आदि। व्यावहारिक और लचीला रुख (Practical and flexible approach) किसी भी विषय, मुद्दों और समस्या के व्यावहारिक हल क्या-क्या हो सकते हैं, यह जानने का प्रयास करें। किसी भी विषय में अतिवादी रवैया न अपनाए लचीला रुख रखें। साथ ही यह हल विवादित नहीं होने चाहिए। जैसे आरक्षण बंद करने के पक्ष में या महिला को बढ़ावा नहीं देने के पक्ष में बोलना अतिवादी, कट्टरवादी रवैया प्रदर्शित होगा। माइक्रो मैनेजमैंट (Micro management) इंटरव्यू के दौरान माइक्रो मैनेजमैंट पर ज्यादा ध्यान न दे। आपके कपड़े, उठने-बैठने का ढंग, आदि का बहुत ज्यादा प्रभाव नहीं होता। लेकिन साक्षात्कार के दौरान समय से पहुंचे नहीं तो यह आपके अनुशासनहीन और गैर-जिम्मेदार व्यक्तित्व को दर्शाएगा। रिलैक्स मूड (Relaxed mood) आप सामान्य रूप से मन को संतोष देने वाले कपड़े पहने और सभी चिंताए छोड़कर, रिलैक्स मूड में पूछे जा रहे प्रश्नों को सुने और जिनका उत्तर आप दे सकते है उस पर बोले और जिनका उत्तर आपको नहीं पता है, उसके लिए आप सॉरी सर यह नहीं जानता/जानती कहें। इससे आपके स्पष्ट और लचीले रुख का पता चलता है। वैकल्पिक विषय से तुलना (Comparison with optional subject) मुख्य परीक्षा में एक विषय वैकल्पिक होता है। इसकी तैयारी वर्तमान चर्चित मुद्दों या विषयों से करें। वैकल्पिक विषयों के नजिरये से इनको देखें और जांचे। साक्षात्कार सामान्य ज्ञान की जांच नहीं है (Interview is not a test of general knowledge) साक्षात्कार दबाव को बढ़ाने वाला नहीं बल्कि दबाव को कम करने वाला होता है क्योंकि यह आपके सामान्य ज्ञान या वैकल्पिक विषय की जानकारी नहीं मांग रहा है बल्कि यह कंडीडेट की समझ, उनके नजरिये एवं विभिन्न विषयों पर उनके कॉन्सेप्ट्स को जांचता है। इसलिए बस आप व्यवहारिक कॉन्सेप्ट और उसके प्रभाव को जाने और इंटरव्यू बोर्ड में सुकून और रिलैक्स मूड में साझात्कार दें। इंटरव्यू किस भाषा में दें (In which language should be give interview) साक्षात्कार में इस बात का कोई फर्क नहीं पड़ता है कि आप साक्षात्कार हिंदी में दे रहे हैं या अंग्रेजी में। आप हिंदी या अंग्रेजी, जिसमें कंफर्टेबल महसूस करते हो उसमें साक्षात्कार या इंटरव्यू दें। सिविल सर्विस के अन्य उपयोगी विषय  Crack IAS 2018 Exam: विस्तार से जाने सिविल सेवा परीक्षा (CSE) 2018 की समयबद्ध, सही दिशा में और सिस्टमेटिक तैयारी
IAS prelims का एग्जाम पैटर्न IAS main एग्जाम का पैटर्न IAS परीक्षा में निबंध कैसे लिखें IAS-2018 की परीक्षा में वैकल्पिक विषय का चुनाव कैसे करें
IPS में चयन और कैडर कैसे मिलता हैः विस्तार से जाने
संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) संवैधानिक दर्जा और कार्य
IAS, IPS आदि सेवाओं का ट्रेनिंग संस्थान LBSNAA: मंसूरी  
  • Share: