उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने स्टाफ नर्स (महिला) परीक्षा के परिणाम घोषित किए

  • Share:

Highlights

  • उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने स्टाफ नर्स (महिला) परीक्षा  के परिणाम घोषित किए ।

  • 4381 पदों के मुकाबले 2388 अभ्यर्थियों को स्टाफ नर्स के लिए अंतिम रूप से चयन किया गया है।

  • स्टाफ नर्स (महिला) की लिखित परीक्षा 17 दिसंबर 2017 को आयोजित की गई थी।

UPPSC

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने स्टाफ नर्स (महिला) का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया है। 4381 पदों के मुकाबले 2388 अभ्यर्थियों का स्टाफ नर्स के लिए अंतिम रूप से चयन किया गया है। न्यूनतम अर्हता अंक लागू होने के कारण 1993 पद खाली रह गए। आयोग चयनित अभ्यर्थियों के मूल अभिलेखों की जांच करेगा और इसके बाद उनकी नियुक्ति के लिए आयोग की ओर से संस्तुति की जाएगी। उम्मीदवार अपना रिजल्ट आयोग की ऑफिशियल http://uppsc.up.nic.in/ पर देख सकते हैं।
स्टाफ नर्स (महिला) की लिखित परीक्षा 17 दिसंबर 2017 को आयोजित की गई थी। परीक्षा में 23394 अभ्यर्थी शामिल हुए थे लेकिन आयोग कार्यालय में आवेदन पत्र प्राप्त होने की निर्धारित तिथि 16 मार्च 2018 तक 20408 अभ्यर्थियों की ओर से ही अभिलेख आदि प्रस्तुत किए गए। आयोग ने इन्हीं अभ्यर्थियों के बीच से ही अंतिम परिणाम जारी किया। जबकि, अभिलेख जमा न करने के कारण 2986 अभ्यर्थी चयन से पहले ही बाहर हो गए। चयन में स्टाफ नर्स (महिला) के दो तरह के पद शामिल हैं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं उत्तर प्रदेश में स्टाफ नर्स के कुल 3628 पद थे और इनमें से 1830 पदों पर अंतिम चयन हुआ जबकि 1798 पद खाली रह गए।

इसी तरह चिकित्सा शिक्षा एवं प्रशिक्षण उत्तर प्रदेश में स्टाफ नर्स के कुल 753 पद थे और इनमें से 558 पदों पर अंतिम चयन हुआ जबकि 195 पद अभी भी रिक्त हैं।। स्टाफ नर्स (महिला) पद के चयन में अनुभव को तरजीह दी गई। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं उत्तर प्रदेश में स्टाफ नर्स के 3628पदों के लिए हुई परीक्षा के लिए 100 अंक निर्धारित थे। इनमें 85 अंक लिखित परीक्षा के थे और संविदा के आधार पर अधिकतम15 अंक निर्धारित थे। दोनों अंकों को जोड़कर मेरिट बनाई गई और इसी आधार पर परिणाम घोषित किया गया।

बता दें इस परीक्षा में हेमलता तोमर और गरिमा यादव ने टॉप किया है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं उत्तर प्रदेश के तहत 3826 पदों के लिए हुई परीक्षा में हेमलता तोमर पहले नंबर पर रहीं तो कुसुमलता सिंह और रश्मि द्विवेदी को क्रमश: दूसरा एवं तीसरा स्थान प्राप्त हुआ। वहीं, चिकित्सा शिक्षा एवं प्रशिक्षण उत्तर प्रदेश में 753 पदों के लिए हुई परीक्षा में गरिमा यादव अव्वल रहीं।

Other details:

Related Articles:

  • Share: