भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय पुलिस सेवा(IPS), भारतीय राजस्व सेवा (IRS) आदि सिविल सर्विस की प्रमुख एवं चर्चित सेवाओं के नाम हैं। संघ लोक सेवा आयोग प्रतिवर्ष नियत समय पर इस परीक्षा को आयोजित कराता है। इस परीक्षा में पास हुए अभ्यर्थियों को उनकी ट्रेनिंग के पश्चत संबंधित विभागों में सेवा के लिए भेज दिया जाता है। संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने सिविल सर्विस एग्जाम (CSE)-2018 का कैलेंडर जारी कर दिया है। इसका सीधा तात्पर्य है कि सिविल सर्विस एग्जाम (CSE)-2018 की प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा की तारीख निश्चित है। अभ्यर्थियों की सुविधा के लिय यह एक प्रयास है कि कैसे IAS-2018 exam को क्रैक करें या कैसे सिविस सर्विस-2018 को क्रैक करें। CSE-2018 की तिथि और तैयारी (Exam date and preparation of civil service - 2018) कैलेंडर के अनुसार सिविल सर्विस की प्रारंभिक परीक्षा 3 जून, 2018 (civil service prelims exam-2018) को रविवार के दिन आयोजित होगी। वहीं इसकी मुख्य परीक्षा की तारीख 1 अक्टूबर, 2018 है। यह परीक्षा 1 अक्टूबर को सोमवार के दिन शुरू होगी और पांच दिनों तक चलेगी। 2018 की परीक्षा की तैयारी कर रहे कैंडिडेट को अभी से प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा की तैयारी करनी चाहिए अर्थात प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा की तैयारी साथ-साथ होनी चाहिए नहीं तो प्रारंभिक परीक्षा (preliminary exam) के बाद मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए पर्याप्त समय नहीं मिलेगा। प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा में तालमेल कैसे बनाए (How to balenced between prelims and main exam ) तैयारी के लिए सिलेक्टेड कैंडिडेट के अनुभवों का, सिलेबस का, पूर्व वर्ष आयोजित हुए परीक्षा प्रश्न-पत्रों का सहारा ले। इसके अतिरिक्त गैर-जरूरी चीजों या विषयों पर अपना समय बर्बाद नहीं करें। एनसीईआरटी की क्लास 6th से क्लास 12th तक की किताबों को पढ़े, साथ ही करेंट अफेयर्स के लिए एक या दो मैगजीन एवं सरकारी साइटो का सहारा ले सकते है, जहां पर सभी जरूरी करेंट अफेयर्स विस्तार से मिल जाती है। आप सिविल सर्विस की तैयारी कर रहे है। इसका अपने ऊपर किसी प्रकार का दबाव न बनाए। पढ़ाई के लिए नियमित और लचीली अध्ययन पद्धति को अपनाएं। इससे कार्य भी ज्यादा होगा और दिमाग में जोर भी नहीं पड़ेगा। इससे प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा की तैयारी में तारतम्य बनाने में आपको सहायता मिलेगी। तैयारी के दौरान सकारात्मक लोगों का साथ (With positive people during preparation) तैयारी के दौरान इस बात का ख्याल रखें कि आपकी संगत में सकारात्मक लोग होने चाहिए, जिनसे आपको सकारात्मक ऊर्जा या प्रेरणा मिले। यदि ऐसी स्थिति नहीं है तो आप चर्चित व्यक्तियों की जीवनी को पढ़े जैसे- महात्मा गांधी, स्वामी विवेकानंद, लेनिन, मिसाइल मैन अब्दुल कलाम आदि। इनकी जीवनी से आप लगातार प्रेरित रहेंगे, ऊर्जावान महसूस करेंगे। प्रारंभिक परीक्षा के बाद की रणनीति (Strategy after the preliminary examination) सिविल सर्विस की प्रारंभिक परीक्षा-2018 को पास करने के पश्चात 1 अक्टूबर, 2018 से मुख्य परीक्षा (civil service main exam-2018 ) शुरू हो जाएंगी। ऐसे में जो आपने मुख्य परीक्षा के लिए तैयारी की है, उसे दोहराए और अपडेट करें। यहां पर भी अनावश्यक विषयों को तैयार करने से बचें। मुख्य परीक्षा में पुछे गए प्रश्नों के आधार पर प्रश्नों के उत्तर लिखने की प्रैक्टिस करें। क्योंकि मुख्य परीक्षा पांच दिनों में पूर्ण हो जाएगी। इसलिए समयबद्ध तैयारी करें और उसकी प्रैक्टिस करें। कॉन्सेप्ट्स को क्लियर रखें। सिलेक्टेड लोगों से सहायता ले आदि। इस प्रकार यदि कैंडिडेट सही दिशा में और सिस्टमेटिक तरीके से तैयारी करता है तो उसे सफलता जरूर मिलेगी। सिविल सर्विस के अन्य उपयोगी विषय Crack IAS 2018 Exam: विस्तार से जाने
IAS prelims का एग्जाम पैटर्न IAS main एग्जाम का पैटर्न IAS परीक्षा में निबंध कैसे लिखें IAS-2018 की परीक्षा में वैकल्पिक विषय का चुनाव कैसे करें इंटरव्यू टिप्सः सिविल सर्विस एग्जाम-2017 संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) संवैधानिक दर्जा और कार्य
IPS में चयन और कैडर कैसे मिलता हैः विस्तार से जाने 
IAS, IPS आदि सेवाओं का ट्रेनिंग संस्थान LBSNAA: मंसूरी
  • Share: