SSC-CHSL

भारतीय स्टेट बैंक ने प्रोबेशनरी ऑफिसर (पीओ) के 2,200 रिक्त पदों को भरने के लिए विज्ञप्ति जारी की है। इन पदों पर स्नातक डिग्री धारी उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। आवेदन ऑनलाइन किए जाएंगे। आवेदन की अंतिम तिथि 24 मई, 2016 है…

 

श्रेणी रिक्तियां
 सामान्य 1,028
ओबीसी 590
एससी 351
एसटी  231
कुल 2,200

 

आयु सीमाशैक्षणिक योग्यता इन पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों के पास मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से किसी भी विषय में स्नातक डिग्री या समकक्ष अर्हता होनी अनिवार्य है। स्नातक के अंतिम वर्ष में अध्ययनरत उम्मीदवार भी आवेदन कर सकते हैं, बशर्ते उन्हें साक्षात्कार के समय परीक्षा उत्तीर्ण करने का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा।

इन पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु 30 वर्ष निर्धारित की गई है। दूसरे शब्दों में अभ्यर्थी का जन्म 02 अप्रैल, 1986 के पहले और 01 अप्रैल, 1995 के बाद का नहीं होना चाहिए। आयु सीमा की गणना 01 अप्रैल, 2016 से की जाएगी।

 

महत्वपूर्ण तिथियां
ऑनलाइन आवेदन प्रारंभ होने की तिथि 04 मई, 2016
ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 24 मई, 2016
कॉल लेटर जारी होने की तिथि 14 जून, 2016 से
प्रारंभिक परीक्षा की तिथि 2, 3, 9 और 10 जुलाई, 2016
परिणाम घोषित होने की तिथि 18 जुलाई, 2016
मुख्य परीक्षा की तिथि 31 जुलाई, 2016
समूह चर्चा और साक्षात्कार की तिथि 01 सितंबर, 2016

 

आवेदन शुल्क

आवेदन शुल्क के तौर पर सामान्य और अन्य पिछड़ा वर्ग के आवेदकों को 600 रुपये और एससी, एसटी व पीडब्ल्यूडी वर्ग के अभ्यर्थियों को 100 रुपये जमा करने होंगे। आवेदन शुल्क का भुगतान ऑनलाइन माध्यम से करना होगा।

आवेदन प्रक्रिया

विज्ञापित रिक्तियों पर आवेदन ऑनलाइन किए जाएंगे। आवेदन करने के लिए इच्छुक उम्मीदवार संबंधित वेबसाइट पर दिए गए निर्देशों के अनुसार ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी करें। ऑनलाइन आवेदन करने के बाद उसके प्रिंटआउट को आगे की चयन प्रक्रिया के लिए सुरक्षित रख लें।

चयन प्रक्रिया

आवेदकों का चयन प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार के आधार पर किया जाएगा। अंतिम चयन मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार की मेरिट के आधार किया जाएगा।

प्रारंभिक परीक्षा

विषय प्रश्न  अंक
अंग्रेजी भाषा 30 30
गणितीय अभिक्षमता 35 35
तार्किक अभियोग्यता  35  35
कुल 100 100
  • परीक्षा ऑनलाइन आयोजित की जाएगी।
  • परीक्षा की अवधि एक घंटे की होगी।
  • सभी प्रश्न बहुविकल्पीय प्रकार के पूछे जाएंगे।
  • प्रत्येक गलत जवाब पर एक चौथाई अंक काटे जाएंगे।
  • प्रारंभिक परीक्षा के आधार पर रिक्तियों से 50 गुना अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा के लिए सूचीबद्ध किया जाएगा।

मुख्य परीक्षा

  • परीक्षा दो चरणों की होगी-प्रथम बहुविकल्पीय जो 200 अंकों का होगा और दूसरा वर्णानात्मक जो 50 अंकों का होगा।
  • बहुविकल्पीय परीक्षा के लिए कुल समय 03 घंटे का होगा।

बहुविकल्पीय परीक्षा

विषय प्रश्न अंक
तार्किक और कंप्यूटर अभियोग्यता 45 60
 डेटा एनालिसिस ऐंड इंटरप्रिटेशन 35 60
सामान्य/आर्थिक/ बैंकिंग जागरूकता 40 40
अंग्रजी भाषा 35 40
 कुल 155 200
  • वर्णानात्मक परीक्षा 50 अंकों की होगी, जो अंग्रेजी (निबंध और पत्र लेखन) का होगा।
  • परीक्षा की कुछ अवधि 03 घंटे की होगी।
  • परीक्षा में एक चौथाई अंकों की निगेटिव मार्किंग का भी प्रावधान है।

समूह चर्चा और साक्षात्कार

  • मुख्य परीक्षा के आधार पर अभ्यर्थियों को समूह चर्चा और साक्षात्कार के लिए सूचीबद्ध किया जाएगा।
  • समूह चर्चा 20 अंक व साक्षात्कार 30 अंक का होगा।
पाठ्यक्रम

तर्कशक्ति क्षमता

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में तर्कशक्ति हमेशा में से एक जटिल क्षेत्र रहा है। इसमें सिलोगिज्म, इनपुट-आउटपुट, कोडिंग-डिकोडिंग, सिटिंगअरेंजमेंट/ पजल, असमानता/ इन्क्विलिटी, डाटा सफिशिएंसी, लॉजिकल रीजनिंग टॉपिक शामिल हैं।

संख्यात्मक अभियोग्यता

संख्यात्मक अभियोग्यता इस परीक्षा का सबसे कठिन भाग है क्योंकि इस भाग में आंकड़े विश्लेषण के प्रश्न प्रमुखता से पूछे जाते हैं जो कि काफी समय लेने वाले होते हैं। इसमें संख्या पद्धति, अनुपात समानुपात, आयु आधारित प्रश्न, प्रतिशत एवं औसत, लाभ एवं हानि, मिश्रण, साधारण एवं चक्रवृद्धि ब्याज, समय और कार्य, समय एवं दूरी, प्रायिकता, नाव एवं प्रवाह आदि से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं।

English Language

Reading and Comprehension, Spotting Error, Fill in the blanks, Cloze Test, Para Jumbles etc. are parts of syllabus.

 

तैयारी के टिप्स

  • समय का अधिक से अधिक उपयोग करना आना चाहिए। अभ्यर्थी को प्रश्नों को कम से कम समय हल करने में कुशलता हासिल करनी चाहिए। यह महारथ केवल अभ्यास से ही हासिल की जा सकती है।
  • गणित के सवालों को हल करने की शॉर्टकट विधि का प्रयोग करें।
  • सम-सामयिक मुद्दों से अपडेट रहें। इसके लिए आप न्यूजपेपर, न्यूज चैनल, पत्रिकाओं का सहारा ले सकते हैं।
  • अंग्रेजी विषय में सीमित पाठ्यक्रम होता है और यह एक स्कोरिंग विषय भी है। इस विषय की तैयार अच्छे से करें।
  • पढ़ी हुई सामग्री के दोहराव के लिए पर्याप्त समय रखें, क्योंकि बिना पुनराभ्यास के शंका उत्पन्न होती है।

सफलता की रणनीति

एसबीआई और संबद्ध बैंकों में नौकरी पाना कोई आसान काम नहीं होता है अपितु इसके लिए बहुत ही अधिक परिश्रम और एक अच्छी रणनीति के साथ तैयारी करने की आवश्यकता होती है। सटीक रणनीति एवं सही दिशा में की गई तैयारी से हम इस बैंक में नौकरी प्राप्त करने में सफल हो सकते
हैं। SBI में नौकरी पाने के लिए कुछ आवश्यक बातों पर ध्यान देना बहुत महत्वपूर्ण होता है। उसके पश्चात ही आप बैंक में नौकरी पाने के अवसर को भुनाने में कामयाबी हासिल कर पाएंगे। प्रवेश परीक्षा में सफल होने के लिए उम्मीदवार निम्नलिखित रणनीति अपना सकते हैं-

  • लिखित परीक्षा में सफल होने के लिए उम्मीदवार अपने ज्ञान का स्तर सटीक एवं वृहत रखें।
  • सामन्यतः विद्यार्थियों को अंग्रेजी भाषा के प्रश्नों का डर होता है। अतः उनको सलाह दी जाती है कि इस परीक्षा में अंग्रेजी भाषा की समझ एवं 10 वीं स्तर सामान्य अंग्रेजी से जुड़े प्रश्न पूछे जाते हैं। अतः विद्यार्थी अंग्रेजी के आधारभूत ज्ञान को पूर्णतः रटने की वजाय उनको समझ कर तैयरी करें और पूछे गए प्रश्नों का उत्तर दें।
  • उम्मीदवार रीजनिंग के प्रश्नों का ज्यादा से ज्यादा अभ्यास करें जिससे तार्किक अभिक्षमता के प्रश्न वे आसानी से कर सकेंगे।
  • उम्मीदवार इस परीक्षा में सिर्फ उन्हीं प्रश्नों को हल करें, जिनका उन्हें उत्तर सटीक पता हो अन्यथा वे उन प्रश्नों को हल ना करें क्योंकि इस परीक्षा में नकारात्मक मार्किंग लागू है।
  • परीक्षा में किसी भी एक प्रश्न पर ज्यादा समय नहीं देना चाहिये क्योंकि आप जानते हैं कि किसी भी परीक्षा में समय का क्या महत्व है?
  • अगर किसी प्रश्न का हल आपसे नहीं हो पा रहा है, तो आप बिना घबराहट के अगले प्रश्न को हल करें, जिससे आप ज्यादा से ज्यादा प्रश्नों को हल कर अच्छा स्कोर प्राप्त कर सकते हैं।
  • अभ्यर्थी किसी भी प्रश्न का गलत उत्तर देनें से बचें क्योंकि गलत उत्तरों के लिये पेनाल्टी का प्रावधान है।
  • प्रत्येक गलत उत्तर के लिये जुर्माना के तौर पर उम्मीदवार द्वारा प्राप्त कुल अंकों में से 0.25 अंक कट जाता है इसलिये जो प्रश्न आपको नहीं आ रहा है
    या उसका हल आप नहीं निकाल पा रहे हो, तो आप गलत जवाब देने से अपने आप को बचायें।
  • बैंक परीक्षा की तैयारी के लिये सदैव उसी प्रकार के प्रश्नों एवं मॉडल सेटों का अभ्यास करें जो परीक्षा में पूछे जाने योग्य हैं।
  • जिस प्रकार परीक्षा भवन में अपने आप को प्रश्नों पर फोकस करते हैं ठीक उसी प्रकार आप घर पर भी उसी प्रकार का माहौल बना सकते हैं और अपने आप को प्रश्नों पर फोकस कर परीक्षा का पुर्वाभ्यास कर सकते हैं।
  • परीक्षा में कोई एक प्रश्नों को हल करने के लिये जितना समय दिया जाता है, अभ्यास के समय भी उतने ही समय में प्रश्नों को हल करें।
  • अभ्यर्थी को किसी भी प्रश्न का उत्तर देने से पहले दिये गये सभी विकल्पों को ध्यानपूर्वक अवश्य पढ़ना चाहिये, कभी-कभी आपको ऐसा लगता है कि एक से अधिक विकल्प सही है, तो ऐसी स्थिति में दोनों विकल्पों में से सर्वोत्तम विकल्प को चुनें।
  • परीक्षा में तीव्र गति से प्रश्नों को हल करने का प्रयास करें, लेकिन एक्युरेसी के साथ हल करें जिससे आप अधिक से अधिक अंक ला सकते हैं।
  • किसी प्रश्न का हल यदि आपसे नहीं हो रहा हो, तो उस प्रश्न पर ज्यादा समय व्यर्थ ना करते हुये अगले प्रश्नों को हल करें और अंत में उन प्रश्नों को हल करने की कोशिश करें जिसका हल आप उस समय नहीं निकाल पाये थे।
  • गणित के प्रश्नों को हल करते समय रफ कार्य कम से कम करें, गणित के अधिकांश प्रश्नों का हल मानसिक गणना के आधार पर करने की कोशिश करें।
  • अभ्यर्थी को हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिये कि परीक्षा में सफलता के लिये Minimum Pass Marks ही पर्याप्त नहीं है, आपको प्रत्येक विषय में अधिक से अधिक अंक लाना होगा ।
  • जो अभ्यर्थी पहली बार ऑनलाईन एग्जाम में शामिल होने जा रहें हैं, तो उनको परीक्षा से पूर्व ही ऑनलाइन एग्जाम के बारे में और कंप्यूटर ऑपरेट करने की सामान्य जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिये ताकि आपका प्रदर्शन किसी भी प्रकार से प्रभावित ना हो सके।
  • परीक्षा से पूर्व सभी विषयों की पारंपरिक ढंग से अच्छी व नियमित तैयारी करें और उसके बाद कंप्यूटर पर प्रत्येक दिन मॉक टेस्ट दें।
  • प्रत्येक दिन मॉक टेस्ट देने से खुद व खुद प्रश्नों को हल करने में पिछले दिनों की तुलना में अगले दिन कम समय लगेगा और साथ ही साथ ज्यादा से ज्यादा स्कोर कर पा येंगे ।

साक्षात्कार

  • अंततः साक्षात्कार में बुलाए गए उम्मीदवार साक्षात्कार का तनाव दूर करने के लिए निम्न उपाय अपना सकते हैं
  • साक्षात्कार के लिए बुलाए गए अभ्यर्थियों साक्षात्कार के समय अपने चरित्र (बनावट रहित) को पेश करने के लिए साक्षात्कार के लिए निम्न तैयारी कर सकते हैं।
  • साक्षात्कार के लिए अभ्यर्थियों के पहनावे से लेकर उनके वर्तालाप के तरीके हर कृत्य के नंबर दिए जाते हैं।
  • अतः अभ्यार्थी साक्षात्कार के समय सुविधाजनक, फॉर्मल और मौसम के अनुसार परिधान का चुनाव करें।
  • पुरुष उम्मीदवार साक्षात्कार के समय सिंपल ट्राउजर और प्लैन शर्ट और चमड़े के जूतों का चुनाव साक्षात्कार के लिए कर सकते हैं।
  • यदि सर्दी का मौसम है तो उम्मीदवार वर्णित परिधान के साथ फॉर्मल जैकेट या कोट अथवा स्वेटर पहनें।
  • महिला उम्मीदवार उनकी सुविधा अनुसार फॉर्मल सलवार-कुर्ता अथवा साड़ी का चुनाव परिधान के रूप में कर सकती हैं।
  • महिला एवं पुरुष उम्मीदवार पहने जाने वाले परिधान के समय परिधानों के रंगों में साधा रंग को प्रयोग करें।
  • साक्षात्कार के समय उम्मीदवार प्रश्नों का उत्तर संक्षेप में और सटीक दें।
  • साक्षात्कार के समय यदि किसी प्रश्न का जवाब नहीं आता हो तो परीक्षक से माफी मांगते हुए अन्य प्रश्न करने का आग्रह करें और बनावटी जवाब से बचें।
  • साक्षात्कार के समय उम्मीदवार चहरे की भाव-भंगिमा प्रसन्नचित रखें।
  • अपने साक्षात्कार के पहले और अंत में इंटरव्यू बोर्ड का अभिवादन अवश्य करें।

May 26, 2016

Copyright 2017 © AMARUJALA.COM. All rights reserved.